Monday, March 9, 2009

मिथिलांगनक पिछला नाटक

फेर स मिथिलांगनक प्रस्तुति सबहक मन के झकजोइर देलकै

सबके सोचई पर मजबूर क देलकै की

'किम्कर्तव्यविमुढ'
मैथिली-भोजपुरी अकादमी, दिल्ली सरकार
द्वारा आयोजित
लेखक : रोहिणी रमन झा
निर्देशक : संजय चौधरी
संगीत : श्री सुन्दरम
गायक : श्री सुंदरम एवं राखी दास
प्रकाश परिकल्पना : कुमार शैलेंद्र
अप्पन विचार आ सुझाव देवक लेल तथा नाटकक सीडी के लेल
संपर्क करू
9312301160, 9810450229, ९९११३६४२१२
अप्पन सुझाव एवं विचार कमेंट्स के द्वारा सेहो भेज सकई छि

1 comment:

जगदानंद झा 'मनु' said...

नीक प्रस्तुति आ ब्लॉग,
मिथिला व् मैथिलीक विकाश हेतु अपनेक नीक प्रयाश